GK in Hindi » Physics Measurement and Units » मापन एवं मात्रक

0

 GK in Hindi – Physics Measurement and Units Notes  यहां से डाउनलोड करें-दोस्तों आज हमारी टीम आप सभी छात्रों के लिए भौतिक विज्ञान,जो कि General Knowledge का महत्वपूर्ण भाग है- से संबन्धित Physics gk in Hindi की सम्पूर्ण नोट्स इस लेख के माध्यम से दे रहे है जो कि गत् वर्षों में आये प्रश्नों पर आधारित है Physics measurements and units pdf आप नीचे दिये गये डाउनलोड लिंक से डाउनलोड कर सकते है।

GK-in-Hindi
GK in Hindi – Physics Measurement and Units

जो छात्र नीचे दिये गयी परीक्षाओं जैसे-

  • SSC Graduate Level Exams & Intermediate(10+2) Level Exams – Data Entry Operator & LDC,Stenographer Grade ‘C’ & ‘D’
  • Civil Services Examination & State Level – MPPCS ,BPSC
  • उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग UPPCS Exams Like –Lower Subordinate Exam,Staff Nurse,LT Grade Teacher,RO/ARO Exams etc.
  • CPO Sub-Inspector, Section Officer(Audit), Tax Assiatant (Income Tax & Central Excise), Section,Officer (Commercial Audit)
  • उत्तर प्रदेश अधिनस्थ सेवा चयन बोर्ड के द्वारा आयोजित परीक्षाए जैसे – Junior Assistant,Lekhpal,ग्राम विकास अधिकारी etc.
  • CISF,Air Force (X & Y Group Exam)

की तैयारी कर रहे है उनके लिए भी Physics Measurement and Units लेख काफी महत्वपूर्ण है

Physics GK in Hindi

 मापन(Measurement) 

  • किसी दी गई राशि को इसके मात्रक से तुलना करने की क्रिया को मापन कहते है।
  • मापन की दो ईकाईयाॅ (1) मूल मात्रक और (2) व्युत्पन्न मात्रक है।
  • मूल मात्रकों की संख्या सात है।
  • उपयुक्त सात मूल राशियों (लम्बाई, द्रव्यमान, समय, वैद्युत धारा, ताप, ज्योति, तीव्रता तथा पदार्थ की मात्रा ) के मात्रकों पर आधारित मात्रक पद्धति को अन्तर्राष्टिय मात्रक पद्धति कहते है।
 माप तौल की अन्य पद्धतियाॅ है-

  1. एम.के.एस; (M.K.S. System) – इस पद्धति में दूरी को ‘मीटर‘ में द्रव्यमान को किग्रा में व समय को सेकेण्ड में मापते है।
  2. सी.जी.एस. पद्धति (C.G.S. System) – इस पद्धति में दूरी का मात्रक सेंटीमीटर, द्रव्यमान का मात्रक ग्राम व समय का मात्रक सेकेण्ड होता है।
  3. एफ.पी.एस. पद्धति (F.P.S. System) – इस पद्धति में दूरी को ’फुट‘ में, द्रव्यमान को ’पौण्ड’ में तथा समय को सेकेण्ड में मापते है। इसे ब्रिटिश पद्धिति British System) भी कहा जाता है।

  • भारत में ’मैट्रिक पद्धति’ को 1957 में अपनाया गया है।
  • मीट्रिक पद्धति कौन-सी पद्धति है जिसमें भौतिक राशियों को दस की घातों के रूप में व्यक्त करते है- दशमलव प्रणाली।
  • लम्बाई के मात्रक को प्रकाश में तरंग दैध्र्य के पदों में परिभाषित 1960 में किया गया।
  • 1 मीटर = क्रिप्टान 86 के नारंगी प्रकाश के 1,650,763,73 तरंगदैध्र्य।
  • मइक्रोन ;डद्ध में सूक्ष्म जीवों की लम्बाई मापी जाती है-
  • 10-4 मी. जिसके तुल्य 1 माइकॅ्रान (M) होता है।
  • 10-3 मीमी., जिसके तुल्य 1 माइकॅ्रान (M) होता है।
  • 10-9 मीटर जिसके तुल्य 1 माइकॅ्रान (Mµ) होता है।
  • ऐंग्स्ट्रॅाम (A0) अतिसूक्ष्म जीवों का मात्रक है-
  • 10-10 मीटर, जिसके तुल्य 1 ऐंग्स्ट्रॅाम होता है।
  • परमाणुओं के नाभिक का व्यास मापने की इकाई फर्मी या फेमैटोमीटर है।
  • 10 -10 मीटर, जिसके तुल्य 1 फर्मी होता है।

  • 10.13मीटर, जिसके तुल्य 1x- मात्रक होता है।
  • नाॅटिकल मील में समुद्री दूरियाॅ मापी जाती है।
  • 1852 मीटर, जिसके तुल्य 1 नाॅटिकल मील होता है।
  • प्रकाश वर्ष बड़ी दूरीयों अर्थात् आकाशीय पिण्डों के बीच की दूरी मापने का मात्रक है।
  • एक प्रकाश वर्ष द्वारा 1 वर्ष में तय की गई दूरी को कहते है।
  • 9.46×1015मीटर किमी जिसके तुल्य 1 प्रकाश वर्ष होता है।
  • 9.46×1012मीटर किमी जिसके तुल्य 1 प्रकाश वर्ष होता है।
  • सूर्य व पृथ्वी के बीच की औसत दूरी मापने की इकाई को 1 खगोलीय इकाई कहते है।
  • 1.5×1011मीटर एक खगोलिया इकाई जितने मीटर के मुल्य है।
  • प्रकाश वर्ष से भी लम्बी दूरियों को पारसेक में मापा जाता है।
  • 3×1016प्रकाश वर्ष जिसके तुल्य 1 पारसेक होता है।
  • 3.26प्रकाश वर्ष जिसके तुल्य 1 पारसेक होता है।
  • कार्बन.12 तत्व, जिसके परमाणुओं के द्रव्यमान के आधार पर किग्रा की आधुनिक परिभाषा दी गई है कार्बन .12 के परमाणुआंें के द्रव्यमान के
  • वह मिश्र धातुए जिससे निर्मित बेलन को ‘मानक किग्रा’ माना गया है.प्लेटिनम इरीडियम
  • वह स्थान जहाॅ मानक.किग्रा रखा गया है. अन्तर्राष्टीªय माप-तौल कार्यालय (सेव्रे नगर, पेरिस, फ्रांस)

  द्रव्यमान के कुछ मात्रक- 

  • 1 मीटर टन       = 103 किग्रा
  • 1 क्विंटल           = 102 किग्रा  
  • 1 मिग्रा            = 10-3 ग्राम = 10-6 किग्रा
  • 1 टेरेग्राम          = 109 किग्रा
  • 1 गीगाग्राम       = 109 किग्रा
  • 1 मेगाग्राम        = 1 टन= 103 किग्रा = 10क्विंटल
  • 1 पिकोग्राम       = 10-15 किग्रा
  • 1 स्लग            = 10.57 किग्रा

  • एक मध्यान्ह से दूसरे मध्यान के बीच की अवधि को सौर दिन कहते हैं-
  • एक वर्ष के सौर- दिनों के माध्य (Mean) को माध्य सौर दिवस कहते है।
  • माध्य सैर दिवस का वह भाग जो 1 सेकेण्ड के बराबर होता 1/86400 भाग है।
  • परमाणुक घड़ीयों में सीजियम-133 परमाणु के 9,192631770 कम्पत्र के 1 सेकेण्ड  बराबर होता है।
  • परमाणुक घड़ीयों में प्रयुक्त तत्व हैं, सर्वाधिक सही समय की मापक घड़ी है।
  • कम्प्यूटर और माइक्रों प्रोसेसर में प्रयुक्त घड़ी है- क्वाटर््स घड़ी समय की परिशुद्धता (Accuracy) प्रदान करने वाली घड़ीयों का आरोही क्रम-स्प्रिंग या पेन्डुलम घडी < क्वार्ट्ज घड़ी >परमाणुक घड़ी
 समय के छोटे मात्रक हैं।  

1 मिली सेकेण्ड      = 104 सेकेण्ड

1 माइक्रो सेकेण्ड     = 106 सेकेण्ड

1 नैनो सेकेण्ड       = 109 सेकेण्ड

1 पिको सेकेण्ड      = 1012 सेकेण्ड

  • वैद्युत धारा का मात्रक ऐम्पियर है।
  • वह धारा जो निर्वात में 1 मीटर की दूरी पर दो सीधे अनन्त लम्बाई के समान्तर तारों में प्रवाहित होने पर प्रत्येक तार की प्रति मीटर लम्बाई पर तारों के बीच 2×107 न्यूटन का बल उत्पन्न कर दे, का मान 1 एम्पियर है।
  • ताप का मूल मात्रक केल्विन (1K) है ।
  • सामान्य वायुमण्डलीय दाब पर गलते बर्फ के ताप तथा उबलते जल के ताप के 100 वें भाग को 1 केल्विन (1K) कहते है।
  • जल के त्रिक बिन्दु (Tripe Point) के उष्मागतिक ताप का 1/273.16 वाॅ भाग 1K होता है।
  • ज्योति तीव्रता (Luminious intensity) का मात्रक कैन्डिला (Cd) है।
  • मानक स्त्रोत (कृष्ण्किा) के खुले मुखे 1 सेमी2 क्षेत्रफल की ज्योती तीव्रता का 1/60 वाॅ भाग (जबकी स्त्रोत का ताप प्लेटिनम के गलनांक के बराबर हो ) 1 कैण्डिला (Cd) कहलाता है।
  • ज्योति तीव्रता मापने का यंत्र फोटोमीटर है।
  • कैन्डिला का दूसरा नाम ल्यूमेन/स्टेरेडियन है।
  • पदार्थ की मात्रा की इकाई मोल है।
  • किसी पदार्थ की वह मात्रा जिसमें उस पदार्थ के अवययों (Enitities) की संख्या , C-12 के 0.012 किग्रा में परमाणुओं की संख्या के बराबर है – कहलाती 1 मोल है।
  • 1 स्टेरेडियन घन कोण, जो गोले में पृष्ठ का वह भाग जिसका क्षेत्रफल गोले की त्रिज्या के वर्ग के बराबर होता है।

  • विद्युत की मात्रा की व्यावहारिक ईकाई ऐम्पियर-घण्टा है।
  • फैराडे इकाई विद्युत स्थैतिज धारिता की है।
  • विभावान्तर की ईकाई वोल्ट है।
  • माइक्रोफैराड इकाई विद्युत धारित की है।
  • 746 वाट- जिसके समयतुल्य 1 अश्वशक्ति होता है-
  • MKS पद्धति में शक्ति की इकाई वाट-घण्टा है।
  • उष्मा की इकाई डिग्री सेल्सियस है।
  • CGS प्रणाली मंे चुम्बकीय उत्पन्न करने वाले बल के माप की चुम्बकीय इकाई आॅस्र्टेंड है।
  • CGS प्रणाली मंे चुम्बकीय फ्लक्स घनत्व की इकाई गाॅस है।
  • चुम्बकीय फ्लक्स की व्यावहारीक इकाई वेबर है।
  • प्रेरक्त्व (Induction) की व्यावहारिक इकाई हेनरी है।
 व्युत्पत्र मात्रक (Derived Units) 

ऐसे मात्रक जिनकी उत्पत्ति मूल मात्रकों से होती व्युत्पत्र मात्रक कहलाते है।

राशि भौतिक राशियांेे में संबंध मात्रक
क्षेत्रफल ल0xचौ0 मीटर2
आयतन ल0xऊ0    मीटर3
घनत्व ल0xचौ0xआयतन किग्रा/मीटर3
वेग विस्थापन/समय मीटर/सेकेण्ड
त्वरण वेग-परिवर्तन/समय मीटर/सेकेण्ड2
बल द्रव्यमानx  त्वरण किग्रा-मीटर/सेकेण्ड2=न्यूटन
कार्य  बल   x विस्थापनन्यूटनग्मीटर या किग्रा मीटर2 /सेकेण्ड2 या जूल
शक्ति  कार्य/समयजूल/सेकेण्ड या वाॅट
संवेग द्रव्यमान x वेग किग्रा-मीटर/सेकेण्ड
गतिज उर्जा1/2 द्रव्यमान x वेग2      किग्रा-मीटर2/सेकेण्ड2
स्थितिज उर्जा द्रव्यमान x गुरुत्वीय त्वरणx ऊचाई किग्रा-मीटर2/सेकेण्ड2
आवेग बलx समय न्यूटन-सेकेण्ड
बल आघूर्ण बल x दूरी न्यूटन-मीटर
जड़त्व-आघूर्णबलx दूरीद्रव्यमानxदूरी2 किग्रा-मी2
विशिष्ट उष्माऊष्मीय ऊर्जा मीटर2 द्रव्यमानx ताप-वृ़िद्ध सेकेण्ड2केल्विन
गुरूत्वाकर्षणबल x दूरी2मीटर3

  • वायुमण्डलीय दाब की इकाई बार है।
  • ध्वनी की तीव्रता की ईकाई बेल है।
  • 1 डेसीबल बराबर 1/10 बेल के होता है।
  • डायोप्टर इकाई लेंस की शक्ति की है।
  • ल्यूमेन किसी प्रकाश स्त्रोत से निकलने वाले प्रकाश की मात्रा की इकाई है।

Download PDF

दोस्तों अगर आपको किसी भी प्रकार का सवाल है या ebook की आपको आवश्यकता है तो आप comment कर सकते है. हमारा post अगर आपको पसंद आया हो तो अपने दोस्तों के साथ share करे और उनकी सहायता करे. जो स्टूडेंट्स 🔜 SSC-CGL/UPSSSC/Railway/Bank आदि एकदिवसीय परीक्षा की अध्ययन सामाग्री प्राप्त करना चाहते है वो जल्दी से इस चैनल में जॉइन 🔔 कर ले और अपनी सुझाव एवं रेटिंग 👇 अवश्य दें

»» Join Telegram ««    

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.