UP B.Ed 2020 Admission-UP B.Ed Entrance Exam Syllabus, Qualification, Fees जानें बी0एड0 के बारे में सम्पूर्ण जानकारी – B.Ed Kaise Kare?

Apply UP B.Ed Admission 2020| UP B.Ed Course Syllabus | B.Ed Entrance Exam Model Question Paper

8

UP B.Ed Admission 2020 जैसा की आप सभी जानते हैं यूपी बी0एड0 2020 कि प्रवेश परीक्षा- के लिए आज से आवेदन शुरु हो गये है तो आज Sarkari Naukri Help की टीम ने बी0एड0 के बारे में काफी जानकारी एकत्रित कि है जो आज आप लोगो के साथ शेयर कर रहे है तो आईये जानते है B.Ed Kaise Kare?, B.Ed Course Syllabus, B.Ed Entrance Exam Model Question Paper, B.Ed ke liye qualification के बारे मे सम्पूर्ण जानकारी।

UP-B.Ed-Admission

अगर आप शिक्षा के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो आज हम आपको बताएंगे कि कैसे और क्यों ये क्षेत्र आपके लिए साबित हो सकता है बेहतरीन क्षेत्र। कैसे आपको इससे रोजगार मिल सकता है और कैसे आप अपना सुनहरा भविष्य बना सकते हैं बीएड कोर्स ही एक ऐसा कोर्स है जिसको करके शिक्षक बन सकते है या आप बीएड कोर्स करके आप शिक्षक बनना चाहते हैं लेकिन योग्यता से संबंधित परेशानी हो रही है ! आप के पास कई और विकल्प मौजूद हैं, अपनी योग्यता के अनुरुप अन्य कोर्स का चयन कर सकते हैं ! ऐसे कई व्यक्ति होगे जो ये जानना चाहते है कि बीएड कैसे करें, बीएड से क्या होता है तो आईये जानते है कि B.Ed करने के बाद आपके पास और कौन-कौन से अवसर होते हैं इस सब की पूरी जानकारी हम आपको बताएंगे। 

इन्हें भी पढ़ें- UPTET/CTET Study Material 2018| UPTET Notes PDF Download

बी.एड. क्यों करना चाहिये? – B.Ed Course Kaise Kare?

शिक्षा के इस महत्त्व को समझते हुए ही भारत में शिक्षण कार्य करने के लिए एक विशेष डिग्री हासिल करनी होती है जिसे हम बी.एड. कहते हैं। यह 2 वर्ष का स्नातक कोर्स होता है जिसमें शिक्षा, संस्कृति और मानवमूल्य, शैक्षणिक मनोविज्ञान, शैक्षणिक मूल्यांकन, शिक्षा दर्शन आदि विषय पर अध्ययन किया जाता है। आप सरकारी स्कूल में टीचर बनना चहाते हैं तो आपके पास बी.एड. की डिग्री होना जरूरी है। और अब सरकार ने घोषणा की है कि साल 2019 तक चाहे सरकारी टीचर हो या निजी सबके पास बी एड की डिग्री होना जरूरी है।इसे करने के बाद आप शिक्षण कार्य हेतु तैयार हो जाते हैं। बी.एड. किये बिना आप एक शिक्षक के रूप में कार्य नहीं कर सकते हैं। बीएड 2 वर्ष का स्नातक कोर्स है।

UP B.Ed के लिये क्या योग्यता होना चाहिये?

बीएड में प्रवेश के लिए आवश्यक न्यूनतम योग्यता कोर्स बैचलर ऑफ आर्ट्स (बीए), बैचलर ऑफ साइंस (बीएससी) या बैचलर ऑफ कॉमर्स (बीकॉम) व अन्य स्नातक, जो कम से कम 50% अंकों के साथ एक मान्यता प्राप्त बोर्ड / विश्वविद्यालय से किया हो।

बीएड कैसे करे – B.Ed Course Kaise Kare?

अभ्यार्थियों के मन में सबसे पहले ये बात आती है कि बी एड कैसे करे? तो हम आपको बताते है कि बीएड करने के लिए आपको सबसे पहले एक प्रवेश परीक्षा देनी होगी। उसके बाद एक काउन्सलिंग में उम्मीदवार को उसके रैंक के अनुसार कॉलेज मिलते हैं। बीएड करने के लिए बहुत सारे प्राइवेट और गवर्नमेंट महाविद्यालय है। बीएड किसी गवर्नमेंट से मान्यता प्राप्त महाविद्यालय से करें। अगर आप बीएड करना चाहते है तो आप किसी गवर्नमेंट महाविद्यालय से ही करे क्योकि इससे आपका पैसे भी बचेंगे। ये परीक्षा आम तौर पर जून-जुलाई महीने में आयोजित की जाती हैं। और इसमें कुछ राज्यों में अंग्रेजी, सामान्य ज्ञान, प्रयोग, मूल अंकगणित शिक्षण क्षमता और एक स्थानीय भाषा के बारे में प्रश्न शामिल हैं। इन परीक्षाओं के परिणाम आम तौर पर जुलाई / अगस्त तक आते हैं। उम्मीदवार सिद्धांत कक्षाओं के अलावा व्यावहारिक प्रशिक्षण पाठ्यक्रमों के माध्यम से जाते हैं।

इन्हें भी पढ़ें – Sam Samayik Ghatna Chakra CTET/UTET Pdf Download-{*शिक्षक पात्रता परीक्षा- गणित**}

बीएड मे विषयों कि सूची

अगर आप ये सोच रहें हैं कि बीएड में आपको क्या पढ़ना होगा तो आइए हम आपको बताते हैं कि बी एड में आपके सब्जेक्ट क्या होंगे। अभ्यार्थी बीएड सब्जेक्ट्स लिस्ट नीचे देख सकते हैं।

  • शिक्षा, संस्कृति और मानव मूल्य
  • शैक्षिक मूल्यांकन और आकलन
  • शैक्षणिक मनोविज्ञान
  • मार्गदर्शन और परामर्श
  • समग्र शिक्षा
  • शिक्षा का दर्शन
B.Ed में इन सब्जेक्ट्स में विशेषज्ञता प्राप्त करें
जैविक विज्ञानप्राकृतिक विज्ञानव्यापार
शारीरिक शिक्षाकंप्यूटर विज्ञानभौतिक विज्ञान
अर्थशास्त्रविशेष शिक्षाअंग्रेज़ी
तमिलभूगोलगणित
हियरिंग इम्पेरेडराजनीति विज्ञानहिन्दी
भौतिक विज्ञानहोम साइंसरसायन विज्ञान

बीएड की फीस- UP B.Ed 2020 Fees

अगर आप बी एड करना चाहते हैं तो आपको बता दें कि इस कोर्स की अवधि 2 साल की है। अगर आप बीएड डिस्टेंस से करते हैं तो उसके लिए फीस अलग है और अगर रैगुलर करते हैं तो उसके लिए अलग है। नियमित कक्षाओं के लिए पाठ्यक्रम शुल्क लगभग 50,000-70,000 है। और डिस्टेंस से करने वालो के लिए फीस कम है। अगर आप बीएड सरकारी संस्थानों द्वारा करते है तो आपको कम फीस देनी होगी। उत्तर प्रदेश बीएड UP B.Ed Admission 2020 के लिए एक संयुक्त प्रवेश परीक्षा कराता है लगभग 52,000 प्रति वर्ष का शुल्क लेता है।

बी0एड0 करने के बाद कितनी होगी आपकी सैलरी?

अगर आप बीएड करते हैं तो आपको बता दें कि आपका प्रारंभ वेतन टीजीटी अध्यापकों के तौर पर 3 लाख से 4 लाख रुपए तथा पीजीटी अध्यापकों के तौर पर आपको 4 लाख से 5 रुपए वार्षिक वेतनमान मिल सकता है।

बी0एड0 करने के बाद कहाँ है अवसर?
  • कोचिंग केंद्र
  • शिक्षा परामर्शदाता
  • गृह अध्यापन
  • निजी प्राइमरी
  • पब्लिशिंग हाउस
  • रिसर्च एंड डेवलपमेंट एजेंसियां
  • स्कूल और कॉलेज
बी0एड0 करने के बाद आप क्या बन सकते है?
  • शिक्षक
  • प्रशासक
  • सहायक डीन
  • सामग्री लेखक
  • सलाहकार
  • शिक्षा शोधक, आदि।

इन्हें भी पढ़ें – Download Child Development And Pedagogy By R Gupta

बीएड के बाद कैसे पाएं नौकरी

अगर आपने बी एड कर लिया है और आप सोच रहे हैं कि अब आपको कैसे नौकरी मिलेगी तो हम आपको बता दें कि आप बी.एड. करने के बाद टीजीटी और पीजीटी के जरिए नौकरी पा सकते हैं। अगर आपके बी.एड. में 50% हैं और बी.ए., बी.कॉम., बी.एससी. या स्नातक स्तर की परीक्षा में भी 50% अंक हैं तो आप TGT ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर (टीजीटी) के जरिए कक्षा 1 से लेकर कक्षा 10 तक अध्यापन कर सकते हैं।

आपको बता दें कि वर्ष 2011 के बाद से भारत सरकार ने शिक्षण स्तर को बेहतर बनाने के लिए बी.एड. के साथ TET टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट (टी.ई.टी.) की परीक्षा को उत्तीर्ण करना भी अनिवार्य किया है। मतलब कि यदि आप TET पास नहीं कर पाते हैं तो आप टीचर की सरकारी नौकरी नहीं कर सकते हैं। आपको ये भी बता दें कि आपके अगर परास्नातक की परीक्षा में 50% अंक हैं और बी.एड. कोर्स भी किया है। तो आप PGT यानि कि पोस्ट ग्रेजुएट टीचर (पीजीटी) के जरिए किसी भी सरकारी या निजी स्कूल में कक्षा 12 तक अध्यापन सकते हैं। लेकिन इसके लिए भी आपको टी.ई.टी. पास करना होगा। बीएड के बाद आप एम.एड. भी कर सकते हैं। और आप उच्च शिक्षा में अध्यापन के लिए जा सकते है। लेकिन आपको शिक्षाशास्त्र में इसके साथ ही NET नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट (नेट) क्वालीफाई करना होगा।

नोट- आपको बता दें कि यूपी की योगी सरकार ने TET के बाद भी 60 अंकों की एक लिखित परीक्षा अनिवार्य कर दी गई है। जबकि 40 अंक शैक्षिक योग्यता के लिए होंगे।

बीएड करने के बाद क्या करें

बीएड की तैयारी करने के जबरदस्त और बेहतरीन तरीके बीएड का कोर्स करने के बाद आपको कई स्थानों पर जॉब के अवसर मिल सकते हैं. बीएड करने के बाद आपको नर्सरी स्कूल्स, मिडिल स्कूल्स, हाई स्कूल्स, कॉलेज, यूनिवर्सिटीज, इंस्टीटयूटस, स्पेशल स्कूल्स आदि स्थानों पर आसानी से रोजगार (job) मिल सकती है. केंद्रीय विद्यालय, जवाहर नवोदय विद्यालय, राज्य सरकार तथा निजी क्षेत्र द्वारा संचालित स्कूल में तो समय-समय पर वैकेंसी निकलती ही रहती है

बीएड पूरा करने के बाद, आपके पास निजी और साथ ही सरकारी स्कूलों में अच्छा वेतन पैकेज के साथ नौकरी पाने के लिए बहुत कुछ है। यदि आप आर्थिक रूप से मजबूत हैं और स्कूल चलाने के लिए सक्षम हैं, तो आप अपना स्वयं का स्कूल भी खोल सकते हैं। मास्टर ऑफ एजुकेशन (एमएड) स्नातकोत्तर उच्च विशेष पाठ्यक्रम है, जो छात्र बी एड पूरा होने पर आगे बढ़ सकते हैं। आप एम.एड. के पूरा होने के बाद भी पीएचडी कर सकते हैं।

Apply Online UP B.Ed Admission 2020

UP B.Ed. 2020 आनलाईन आवेदन की प्रारम्भ तिथि12-02-2020
UP B.Ed. 2020 आनलाईन आवेदन की अंतिन तिथि06-03-2020
विलम्ब शुल्क सहित आवेदन की अंतिम तिथि11-03-2020
प्रवेश परीक्षा कि संभावित तिथि08-04-2020
प्रवेश परीक्षा परीणाम कि संभावित तिथि11-05-2020
आनलाईन काउसंलिंग प्रारम्भ होने की तिथि01-06-2020
शैक्षणिक सत्र प्रारम्भ होने की तिथि01-07-2020

Download Advertisement 2019Click Here

Apply OnlineClick Here

Note:  एजुकेशन सिस्टम में टीचर स्तर को सुधारने के लिए सरकार बैचलर ऑफ एजुकेशन यानी बीएड कोर्स में एक बार फिर बदलाव करने जा रही है, जिसमें दो साल के बीएड कोर्स को खत्म कर 4 साल का इंटीग्रेटेड बीएड कोर्स शुरू किया जाएगा. पहले बीएड कोर्स एक साल का था जिसे बदलकर दो साल का कर दिया गया था. लेकिन अब इस कोर्स में फिर से बदलाव किया जा रहा है.

एजुकेशन सिस्टम में टीचर स्तर को सुधारने के लिए सरकार बैचलर ऑफ एजुकेशन यानी बीएड कोर्स में एक बार फिर बदलाव करने जा रही है, जिसमें दो साल के बीएड कोर्स को खत्म कर 4 साल का इंटीग्रेटेड बीएड कोर्स शुरू किया जाएगा. पहले बीएड कोर्स एक साल का था जिसे बदलकर दो साल का कर दिया गया था. लेकिन अब इस कोर्स में फिर से बदलाव किया जा रहा है.

नेशनल काउंसिल फॉर टीचर्स एजुकेशन (NCTE) की ओर से एमएचआरडी को बीएड कोर्स में बदलाव को लेकर प्रस्ताव भेजा गया है. वहीं अगर इस प्रस्ताव को मंजूर किया जाता है तो इस साल (2018) प्रदेश के कॉलेजों में दो साल का यह आखिरी बीएड प्रोग्राम कोर्स होगा.चर्चा ये चल रही है कि दो साल का प्रोग्राम अब बंद कर दिया जाएगा.

Source : aaj Tak – aajtak.in

दोस्तों अगर आपको किसी भी प्रकार का सवाल है या ebook की आपको आवश्यकता है तो आप नीचे comment कर सकते है. आपको किसी परीक्षा की जानकारी चाहिए या किसी भी प्रकार का हेल्प चाहिए तो आप comment कर सकते है. हमारा post अगर आपको पसंद आया हो तो अपने दोस्तों के साथ share करे और उनकी सहायता करे. आप हमसे facebook page से भी जुड़ सकते है daily updates के लिए.

फेसबुक पेज – https://goo.gl/Z51j25

टेलीग्राम चैनल – https://t.me/notespdfadda

Disclaimer: The content of SarkariNaukriHelp.com is provided for information and educational purposes only. We are not owner of the any PDF Material/Books/Notes/Articles published in this website. No claim is made as to the accuracy or authenticity of the PDF Material/Books/Notes/Articles of the website. In no event will this site or owner be liable for the accuracy of the information contained on this website or its use.

SarkariNaukriHelp.com provides freely available PDF Material/Books/Notes/Articles on the Internet or other resources like Links etc.This site does not take any responsibility and legal obligations due to illegal use and abuse of any service arises due to articles and information published on the website. No responsibility is taken for any information that may appear on any linked websites.

If any query mail us at sarkarinaukrihelp.blog@gmail.com

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.